📢 भारतीय स्वतंत्रता के 75 साल – Essay on 75 years of Indian Independence in Hindi
🔥 Join eWritingCafe Telegram for latest Essay topics
[Essay On 75th Independence Day Of India] [Azadi Ka Amrit Mahotsav Essay in English]

वृक्षारोपण पर निबंध

ajax loader

👀 इस पेज पर नीचे लिखा हुआ वृक्षारोपण पर निबंध | वृक्षारोपण के महत्व पर निबंध (Importance of Tree Plantation in Hindi |  Essay on Afforestation in Hindi) आप को अपने स्कूल या फिर कॉलेज प्रोजेक्ट के लिए निबंध लिखने में सहायता कर सकता है। आपको हमारे इस वेबसाइट पर और भी कई विषयों पर हिंदी में निबंध मिलेंगे (👉 निबंध सूचकांक), जिन्हे आप पढ़ सकते है, तथा आप उन सब विषयों पर अपना निबंध लिख कर साझा कर सकते हैं

वृक्षारोपण पर निबंध
वृक्षारोपण पर निबंध

वृक्षारोपण पर निबंध 
वृक्षारोपण के महत्व पर निबंध
Importance of Tree Plantation in Hindi
Essay on Afforestation in Hindi


🗣️ वृक्षारोपण पर निबंध | वृक्षारोपण के महत्व पर निबंध (Importance of Tree Plantation in Hindi |  Essay on Afforestation in Hindi) पर यह निबंध बच्चो (kids) और class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12, कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए और अन्य विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए लिखा गया है।

प्रस्तावना

हमारे जीवन में प्रकृति का महत्व बहुत अधिक है। प्रकृति द्वारा प्रदान किये संसाधनों के ही द्वारा हम एक श्रेष्ठ जीवन यापन करते हैं। यदि प्रकृति के सभी संसाधन नष्ट हो जाएं तो हम एक क्षण भी यहाँ जीवित नहीं रह सकेंगे। उन समस्त संसाधनों में वृक्ष, पौधे, जंगल, मिट्टी, जल, नदियाँ, पहाड़, पर्वत, मैदान, वायु और कई चीजें सम्मिलित हैं। आज के समय इन सभी का काफी तेजी से क्षय हो रहा है।

जंगलों और पेड़-पौधों को काटकर इमारतें और अपार्टमेंट बनाए जा रहे हैं। उचित स्थानों पर वृक्षों का लगाने का भी पूरी तरह अभाव है। इसके कारण न तो पर्यावरण में हरियाली रह गई है, न ही शुद्ध हवा। इसीलिये वृक्षारोपण की आवश्यकता और महत्व किसी भी अन्य प्राकृतिक अभियान से सर्वोपरि है। आइये वृक्षारोपण के अन्य पहलू और जरूरी बातें समझें।

वृक्षारोपण पर निबंध  – वृक्षारोपण की आवश्यकता क्यों?

हम जानते हैं कि एक खुशहाल जीवन का महत्वपूर्ण स्तंभ अच्छा स्वास्थय है। पर आजकल कई लोगों का स्वास्थय बहुत खराब रहता है। जिसका एक कारण शुद्ध हवा का न होना है। प्रदूषण से जहरीली गैसें वातावरण में मिल कर हमारे स्वास्थय को प्रभावित करती हैं। यदि हम पर्याप्त मात्रा में वृक्षों को लगाए तो एक स्वास्थय की बेहतरी तो होगी ही, साथ ही जीवन में खुशहाली भी आएगी।

वृक्षों की कमी की वजह से ही वर्षा का स्तर कम हो रहा है। वर्षा, जल का मुख्य स्रोत है। इसीलिये जल के सरंक्षण के लिये वृक्षों का होना अनिवार्य है। अगर वृक्षों की पर्याप्त मात्रा हो तो गर्मी के स्तर भी घटेगा और भूमिगत जल के लिये भी जल का इंतजाम होगा। वृक्षों के होने से किसानों को तेज बहाव वाले पानी से अपनी फसलों को बचाने में मदद मिलती है।

वृक्षों का प्रकृति में उचित स्थान है। वृक्ष परोपकार के अप्रतिम उदाहरण हैं। प्रस्तुत श्लोक वृक्षों की महत्ता का वर्णन करता है।

दशकूपसमावापी, दशवापीसमोह्रद:

दशह्रदसम: पुत्रोदशपुत्रसमोद्रुम: 

अर्थात् एक बावड़ी का निर्माण करना दस पानी के कुएं बनाने के समान है और एक तालाब का निर्माण दस बावड़ियों के समान है। एक पुत्र दस तालाबों के समान होता है किन्तु एक वृक्ष लगाना दस पुत्रों के समान है।

वृक्षों से मिलने वाली वायु ही हमें पोषण देती है। शुद्ध हवा और स्वास्थय के अलावा वृक्ष हमें जीवन में सार्थकता का अहसास भी कराते हैं। इसीलिये देश, समाज और दुनिया में वृक्षारोपण को महत्व दिया ही जाना चाहिए।

वृक्षारोपण पर निबंध  – वृक्षारोपण के उपाय

वृक्षारोपण जन-जन की आवश्यकता है। इसीलिये सभी को अपनी ओर से वृक्षारोपण में योगदान देना चाहिए। यह सिर्फ किसी सरकार का कार्य या अभियान नहीं है। वृक्षारोपण से हम सभी लाभ प्राप्त करेंगे। वृक्षारोपण से पहले विभिन्न प्रजातियों के वृक्षों, उनके लाभ, हानियों आदि बिंदुओं पर विशेषज्ञों से विचार करना उचित है। मोटे तौर पर कहें तो हमें ऐसे वृक्ष लगाने चाहिए जो छायादार, विशाल, और स्वास्थय पर सकारात्मक प्रभाव डालते हों। कुछ अन्य बिंदु जिनका वृक्षारोपण के समय ख्याल रखना चाहिए, निम्न हैं-

1. हर मार्ग पर, सीधे रास्तों और सड़कों कुछ निश्चित दूरियों पर वृक्ष लगाने चाहिए।

2. लगाए गए वृक्षों को जल व सुरक्षा प्रदान करने की व्यवस्था करनी चाहिए। भले ही ये वृक्ष हमें छाया न दें पर आने वाली पीढ़ी को अवश्य समृद्ध करेंगे। आज हमारे लगाए हुए ये वृक्ष ही भावी पीढ़ी के लिये सीख साबित होंगे।

3. विद्यालयों, कॉलेजों और शिक्षा संस्थानों के भीतर और बाहर वृक्षों के उचित रखरखाव का प्रबंध होना चाहिए। इससे छात्र और युवा विद्यार्थी वृक्षों के महत्व के प्रति जागरुक और संवेदनशील होंगे।

4. पुराने और विशाल छायादार वृक्षों को अपने फायदे के लिये काटने वाले लोगों का संगठित होकर विरोध करना चाहिए।

5. जिन लोगों के घरों या आंगन में पर्याप्त स्थान हो, वे वहीं वृक्षारोपण कर सकते हैं। इससे बच्चों को प्राकृतिक वातावरण भी मिलेगा और वे इसकी अहमियत को भी समझेंगे।

वृक्षारोपण पर निबंध – उपसंहार

हम सभी को ख्याल रखना चाहिए कि वृक्षों के अभाव में हमारा जीवन बदतर हो जाएगा। इस संबंध में हमें अपने बच्चों को जागरुक करना चाहिए।

सोचो अगर ये पेड़ ना होते,
धरती पे कभी हम ना होते।

हर व्यक्ति को प्रकृति और अपने जीवन के प्रति अपनी जिम्मेदारी समझते हुए वृक्षारोपण में यथासंभव योगदान देना चाहिए। यह हमारा केवल अज्ञान ही है कि हमारा जीवन किसी पर निर्भर नहीं है। किंतु हम प्रकृति के प्रत्येक अन्य संसाधन पर निर्भर हैं। इसीलिये आप भी वृक्षों के प्रति कर्तव्य का पालन करते हुए उनके संरक्षण और पोषण की जिम्मेदारी लें।


👉 यदि आपको यह लिखा हुआ “वृक्षारोपण पर निबंध | वृक्षारोपण के महत्व पर निबंध” पसंद आया हो, तो इस निबंध (Importance of Tree Plantation in Hindi |  Essay on Afforestation in Hindi) को आप अपने दोस्तों के साथ साझा करके उनकी मदद कर सकते हैं



निबंध 2 (1100+ शब्द) वृक्षारोपण के महत्व पर निबंध
Essay on Importance of Tree Plantation in Hindi


प्रस्तावना : 

समय के साथ साथ हमारे जीवन में वृक्षारोपण का महत्व (Vriksharopan ka mahatva) दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। आज आवश्यकता है वृक्षारोपण के महत्व (Importance of plantation in hindi) को समझने और इसे लोगों के बीच प्रोत्साहित करने की। हमारे लिए सबसे पहले वृक्षारोपण के अर्थ (Plantation Meaning in Hindi) और इसके महत्वपूर्ण फायदों के बारे में जानना जरूरी है।

इस आर्टिकल के माध्यम से हम Essay on Importance of Tree Plantation in Hindi से संबंधित जानकारी आपसे शेयर कर रहे हैं। यदि आप किसी भाषण प्रतियोगिता में भाग ले रहे हैं तो ये Vriksharopan nibandh hindi आपके लिए काफी फायदेमंद रहेगा। यदि आप वृक्षारोपण के महत्व के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो यहां आपको संपूर्ण जानकारी मिलेगी।

वृक्षारोपण पर निबंध  – वृक्षारोपण का अर्थ : Plantation Meaning in Hindi

वृक्षारोपण दो शब्दों से मिलकर बना है “वृक्ष” और “रोपण”। इन दोनों शब्दों को मिलाकर बनने वाले शब्द वृक्षारोपण का तात्पर्य है वृक्षों को लगाना।

वृक्षारोपण पर निबंध  – वृक्षों का हमारे जीवन में महत्व : Importance of Tree in Hindi

हमारे जीवन में वृक्षों का बहुत अधिक महत्व है। वर्तमान समय में प्रदूषण को रोकने या इससे छुटकारा पाने के लिए वृक्षारोपण बेहद आवश्यक हो गया है। हमारे वातावरण के साथ-साथ हमारे लिए भी वृक्षारोपण बेहद आवश्यक है। वृक्ष हमारे सच्चे मित्र होते हैं। वृक्षों से हमें ऑक्सीजन प्राप्त होता है, जिससे आज हम जीवित हैं। जिस दिन ऑक्सीजन मिलना बंद हो जाएगा, इस पृथ्वी पर कोई भी व्यक्ति जीवित नहीं रह पाएगा। वृक्षों से हमें फल, फूल सब्जियां आदि प्राप्त होते हैं।

वृक्ष व्यापारिक दृष्टि से भी काफी महत्वपूर्ण होते हैं। वृक्षों से रबर, गोंद, लकड़ियां आदि प्राप्त होती है। इनका इस्तेमाल विभिन्न जगहों में किया जाता है। खासकर लकड़ियों की बात करें तो इसका इस्तेमाल कर फर्नीचर के सामान बनाए जाते हैं, जिसकी कीमत बहुत अधिक होती है। विज्ञान की दृष्टि से वृक्षों का और भी महत्व है। वृक्ष जल को संरक्षित करने में मदद करते हैं, जिससे कुएं, तालाब आदि वर्षभर जल से भरे रहते हैं। जिन भागों में पेड़ पौधे अधिक होते हैं, वहां मिट्टी के संरक्षण की क्षमता अधिक होती है। इससे भूमि उपजाऊ रहती है और बड़ी मात्रा में खेती होती है।

वृक्षारोपण पर निबंध  – भारत ने वृक्षारोपण से जुड़े आंकड़े :

वृक्षारोपण के क्षेत्र में भारत की बात करें तो कई राज्य ऐसे हैं, जहां वृक्षों की संख्या बहुत अधिक है। इन राज्यों में लक्ष्यदीप, अंडमान निकोबार दीप समूह और मिजोरम शामिल हैं। वहीं दूसरी तरफ कुछ राज्य ऐसे भी हैं जहां वृक्षों की मात्रा बेहद कम है। इनमें महाराष्ट्र, गुजरात और राजस्थान जैसे राज्य शामिल है।

Vriksharopan nibandh hindi में आप ये भी कह सकते हैं कि वन नीति 1988 के मुताबिक पृथ्वी के 33% हिस्से पर जंगल होना जरूरी है। वहीं 2001 की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में सिर्फ और सिर्फ 20% ही वन बचे हैं। 2017 में वन-विभाग ने आश्चर्य कर देने वाली रिपोर्ट पेश की थी। इस रिपोर्ट के मुताबिक बीते सालों के मुताबिक साल 2017 में जंगलों में 1% की वृद्धि देखी गई है। यह वृद्धि दर अधिक नहीं है। इसका मुख्य कारण है जनसंख्या में लगातार बढ़ोत्तरी होना।

वृक्षारोपण पर निबंध  – वृक्षारोपण के लिए भारत सरकार द्वारा उठाए गए कदम :

वृक्षारोपण को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार अक्सर नई योजनाएं (Plantation schemes of Government of India) लेकर आती है। इन सभी योजनाओं का उद्देश्य लोगों में वृक्षारोपण से संबंधित जानकारी उपलब्ध करवाना है। इसके अलावा सरकार का उद्देश्य उन्हें वृक्षारोपण से होने वाले फायदे की जानकारी देना भी होता है। Tree plantation hindi essay के अंतर्गत वृक्षारोपण को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने जो कदम उठाए हैं उनके बारे में जानते हैं –

• भारत सरकार द्वारा विद्यालय नर्सरी योजना चलाई जा रही है। इसके अंतर्गत स्कूल के बच्चों को आसपास स्थित नर्सरी में पौधे लगाकर देखभाल करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। इसके बाद उन्हें उस पौधे की देखरेख करने की जिम्मेदारी दी जाती है।

• ग्लासगो में सीओपी 26 में प्रधानमंत्री ने ‘लाइफस्टाइल ऑफ एनवायर्नमेंट’ (एलआईएफई) की घोषणा की है। इस दिशा में उठाए जाने वाला सबसे महत्वपूर्ण कदम है वृक्षारोपण। इसके जरिए लोगों को वृक्षारोपण के महत्व से संबंधित जानकारी दी गई है।

• भारत सरकार ने “नगर वन उद्यान योजना- एक कदम हरियाली की ओर” की शुरुआत की है। इसके अंतर्गत वृक्षारोपण को बहुत अधिक महत्व दिया गया है। इस योजना के तहत कुल 200 जंगलों का निर्माण करने का उद्देश्य रखा गया है। इससे वृक्षारोपण के क्षेत्र में लोगों को अवेयर भी किया जाएगा।

• पर्यावरण विभाग बीच-बीच में वृक्षारोपण को प्रोत्साहित करने के लिए लोगों को अवेयर कराने का काम करता है। कई NGO भी वृक्षारोपण के अवेयरनेस के लिए महत्वपूर्ण कार्य करती है। ये संगठन सड़क के किनारे वृक्षारोपण से संबंधित नाटक प्रदर्शन करते हैं। इनका उद्देश्य लोगों के अंदर वृक्षारोपण के महत्व की जानकारी को बढ़ावा देना है।

• स्कूल और कॉलेज में भी विद्यार्थियों के बीच वृक्षारोपण से जुड़े भाषण प्रतियोगिताएं आयोजित किए जाते हैं। इन प्रतियोगिताओं का विषय होता है “Essay on Importance of Tree Plantation in Hindi”। इन प्रतियोगिताओं में वृक्षों का हमारे जीवन में महत्व, वृक्षारोपण की उपयोगिता आदि के बारे में बात की जाती है।

वृक्षारोपण पर निबंध  – वृक्षारोपण को प्रोत्साहित करने के लिए हमारे द्वारा किए जा सकने वाले प्रयास :

Essay on Importance of Tree Plantation in Hindi के अंतर्गत चलिए जानते हैं वृक्षारोपण को बढ़ाने के लिए हम क्या कर सकते हैं। वृक्षारोपण को बढ़ावा देने के लिए हम निम्नलिखित कदम उठा सकते हैं –

• एनजीओ यानी कि गैर सरकारी संगठनों के साथ जुड़कर वृक्षारोपण को बढ़ावा दे सकते हैं।

• हम स्कूल और कॉलेजों के छात्र छात्राओं के साथ वृक्षारोपण के महत्व से लोगों को अवेयर कर सकते हैं।

• लोगों को सैद्धांतिक ज्ञान ना देते हुए व्यवहारिक ज्ञान उपलब्ध कराने से वे वृक्षारोपण के महत्व को समझते हैं।

• अपने मोहल्ले में वृक्षारोपण अभियान चलाकर प्रत्येक व्यक्ति को पौधे लगाने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए।

• हम सभी को यह प्रतिज्ञा लेनी चाहिए कि हम खुद पौधे लगाएं और अपने आसपास के लोगों को भी प्रोत्साहित करें।

• स्कूलों में छोटे बच्चों को वृक्षारोपण के महत्व को समझाना और पौधे लगाने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए।

उपसंहार :

वृक्षारोपण को बढ़ावा देने के लिए हमें आसपास के लोगों के बीच अधिक से अधिक जागरूकता फैलाने की जरूरत है। इसके लिए सरकार द्वारा चलाए गए योजनाओं को सपोर्ट करना भी जरूरी है। वृक्षारोपण के महत्व को समझने के बाद वन महोत्सव जैसे कार्यक्रमों को बढ़ावा देना हमारा उद्देश्य होना चाहिए। यह सिर्फ हमारे पीढ़ी के लिए ही नहीं बल्कि आने वाली पीढ़ी के लिए भी बेहद आवश्यक साबित होने वाली है। यही कारण है कि वृक्षारोपण का महत्व सभी लोगों को पता होना चाहिए। हमारे आसपास गली मोहल्ले, स्कूल कॉलेज आदि में सभी के बीच जागरूकता फैलाने से ही यह संभव हो सकता है।

👉 यदि आपको यह लिखा हुआ “वृक्षारोपण के महत्व पर निबंध ” पसंद आया हो, तो इस निबंध (Essay on Importance of Tree Plantation in Hindi) को आप अपने दोस्तों के साथ साझा करके उनकी मदद कर सकते हैं

👉 आप नीचे दिये गए सामाजिक मुद्दे और सामाजिक जागरूकता पर निबंध पढ़ सकते है तथा आप अपना निबंध साझा कर सकते हैं |

सामाजिक मुद्दे और सामाजिक जागरूकता पर निबंध
नयी शिक्षा नीति पर निबंधशिक्षित बेरोजगारी पर निबंध
जीना मुश्किल करती महँगाईपुरानी पीढ़ी और नयी पीढ़ी में अंतर
मानव अधिकार पर निबंधभारत में आतंकवाद की समस्या पर निबंध
भ्रष्टाचार पर निबंधजीवन में शिक्षा का महत्व पर निबंध
वृक्षारोपण के महत्व पर निबंध – Essay on Importance of Tree Plantation in Hindi

विनम्र अनुरोध:

इस तरह “वृक्षारोपण पर निबंध | वृक्षारोपण के महत्व पर निबंध (Importance of Tree Plantation in Hindi |  Essay on Afforestation in Hindi)” यहीं पूरा होता है। हमने अपना सर्वश्रेष्ठ देते हुए पूरी कोशिश की है कि इस हिंदी निबंध में किसी भी प्रकार की त्रुटि ना हो। फिर भी यदि आप को इस निबंध में कोई गलती दिखती है तो आप अपना बहुमूल्य सुझाव ईमेल के द्वारा दे सकते है। ताकि हम आपको निरन्तर बिना किसी त्रुटि के लेख प्रस्तुत कर सकें।

अपने दोस्तों को share करे:

Leave a Comment